"पेट में दर्द" और "मरोड़" का घरेलू उपचार | stomach pain home remedies in hindi

with No Comments



#petdard #stomachpain #homeremedies
शरीर में अधिकतर बीमारियों का मुख्य कारण है हमारे खान—पान की गलत आदतों का होना। इन सब के अलावा हमारी गलत तरह की जीवनशैली भी काफी हद तक जिम्मेदार है हमें बीमार करवाने में। पेट की समस्या खासकर की पेट में मरोड़, पेट में दर्द का होना pet ka dard, भी इन सभी कारणों की वजह है। यही नहीं पाचन तंत्र खराब होने की वजह से अन्य दूसरी बीमारियां हमें लगने लगती है। इस लेख में हम आप आपको पेट दर्द से आराम पाने के कुछ आयुवेर्दिक घरेलू नुस्खों के बारे में बता रहे हैं
जिसका इस्तेमाल करके आप जल्द ही इस दर्द से राहत ​पा सकते हैं। और इन नुस्खों से आप पेट की अन्य बीमारियों से भी बच सकते हो।

क्या कारण है पेट दर्द के

अधिक मिर्च मसाले वाली चीजें या फिर बासी खाना खाने से पेट में कब्ज बनती है और फिर उसके बाद एसिडिटी और पेट दर्द होता है।
आयुवेर्दिक घरेलू उपचार पेट दर्द का- (Stomach pain) Pet Dard ka gharelu upchar)

दर्द से राहत पाने के लिए अक्सर लोग पेन किलर का प्रयोग करते हैं। जो थोड़ी देर के लिए राहत तो देती है। लेकिन बाद में एक बड़ी समस्या बनकर हमारे समाने आती है। लेकिन यदि आप वैदिक आयुवेर्दिक नुस्खों का प्रयोग करते हो तो इस समस्या से आसानी से निजात पा सकते हो जिसका कोई साइड इफैक्ट भी नहीं है।

करें मूली का प्रयोग

सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है मूली। यदि पेट में दर्द हो रहा हो तो आप मूली को छीलकर उसमें सेंधा नमक या काला नमक और काली मिर्च का चूर्ण उसमें लगाएं और उसका सेवन करें। इससे आपको न सिर्फ पेट दर्द से आराम मिलेगा अपितु इससे पेट की अन्य कई समस्याएं भी ठीक हो जाएगीें।

प्याज का फायदा

एक कारगर औषधि है प्याज हमारे पेट के लिए। आप थोड़ा सा प्याज का रस निकालें और फिर इसमें बहुत ही कम मात्रा में नमक मिला लें फिर इसका सेवन करें। एैसा करने से पेट दर्द ठीक हो जाता है।

तुलसी इस्तेमाल जरूर करें

बहुत ही कारगर घरेलू औषधि है। दस ग्राम तुलसी के रस को लेकर इसका सेवन करें। इससे पेट में ऐठंन से होने वाला दर्द ठीक हो जाता है।

हींग

हींग पेट में होने वाली मरोड़ को ठीक कर देती है। खासकर की छोटे बच्चों को होने वाले पेट दर्द में। पानी के साथ दो ग्राम हींग को पीस लेें और फिर इसका लेप बच्चे की नाभि पर करें। यानि नाभि के आसपास आपको इस लेप को लगाना है। एैसा करने से पेट में मरोड़ शांत हो जाती है। ये एक कारगर घरेलू उपचार भी है।
website link

► ‘भारतीय संस्कृति ‘ के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें

►Subscribe our channel-
►Medical Disclaimer

material on this video is provided for your information only and may not be construed as medical advice or instruction. No action or inaction should be taken based solely on the contents of this information; instead, readers should consult appropriate health professionals on any matter relating to their health and well-being.
The information and opinions expressed here are believed to be accurate, based on the best judgement available to the authors, and readers who fail to consult with appropriate health authorities assume the risk of any injuries. In addition, the information and opinions expressed here do not necessarily reflect the views of every contributor to Bhartiya Sanskrit. acknowledges occasional differences in opinion and welcomes the exchange of different viewpoints. The publisher is not responsible for errors or omissions. Thanks.

source